बांग्लादेश में कट्टरपंथियों ने की दो हत्याएं

  • 5 जून 2016
बांग्लादेश में हत्याएं इमेज कॉपीरइट focusbangla

बांग्लादेश की पुलिस के मुताबिक़ देश के उत्तर-पश्चिमी इलाक़े में एक ईसाई दुकानदार की हत्या कर दी गई है.

चरमपंथी समूह इस्लामिक स्टेट का कहना है कि ये हत्या उसने की है.

इस हत्या को बांग्लादेश में अल्पसंख्यकों, धर्मनिरपेक्ष कार्यकर्ताओं और ब्लॉगरों की हो रही हत्याओं के सिलसिले में ही अगली कड़ी माना जा रहा है.

इस हत्या के कुछ घंटे पहले ही संदिग्ध इस्लामी चरमपंथियों ने दक्षिण पूर्वी शहर चटगांव के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी की पत्नी की हत्या कर दी.

इमेज कॉपीरइट focusbangla

महमूदा बेगम अपने बेटे को स्कूली बस में बिठाने जा रहीं थी जब उन पर गोली चलाई गई और चाकू से हमला किया गया.

उनके पति बालु अख़्तर ने इस्लामी चरमपंथियों के ख़िलाफ़ कई चर्चित कार्रवाइयों का नेतृत्व किया था.

बांग्लादेश में हाल के दिनों में धर्मनिरपेक्ष कार्यकर्ताओं, ब्लॉगरों और अल्पसंख्यक समुदायों से जुड़े लोगों पर हमले बढ़े हैं.

हाल ही में एक पुजारी की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी.

बीते महीने दक्षिण पूर्वी ज़िले बंदरबन में 75 वर्षीय बौद्ध भिक्षु की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आपयहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार