इराकी सेना ने फलूजा को अधिकार में लिया:अबादी

  • 18 जून 2016
फलुजा शहर इमेज कॉपीरइट AFP

इराक के प्रधानमंत्री हैदर अल अबादी ने कहा है कि इराकी सेना ने फलूजा शहर पर अधिकार कर लिया है.

प्रधानमंत्री अबादी ने कहा कि फलूजा के कुछ हिस्सों में इस्लामिक स्टेट के लड़ाके मौजूद हैं लेकिन अगले कुछ घंटों में ये स्थान भी सेना के अधिकार में होंगे.

सरकारी टीवी पर दिए संक्षिप्त बयान में अबादी ने कहा, "हमने आपसे फलूजा की आज़ादी का वादा किया था और हमने इस पर दोबारा अधिकार कर लिया."

उन्होंने कहा कि सेना का अगला लक्ष्य इराक का उत्तरी शहर मोसूल होगा. मोसूल को इराक में इस्लामिक स्टेट का गढ़ माना जाता है

इसके पहले इराक की सरकारी सेना ने फलुजा शहर में सरकारी कंपाउंड को इस्लामिक स्टेट के कब्ज़े से छुड़ाने की जानकारी दी थी.

इमेज कॉपीरइट AFP

सेना के बयान के मुताबिक शुक्रवार को पुलिस ने शहर के काउंसिल इमारत के ऊपर इराकी झंडा फहराया.

वहीं अमरीकी रक्षा मंत्री एश्टन कार्टर ने कहा कि अब भी शहर के कुछ अहम इलाके इस्लामिक स्टेट के नियंत्रण में है.

इराकी सेना के लेफ्टिनेंट जनरल अब्दुल वाहब अल-सादी ने बीबीसी से कहा कि चरमपंथ रोधी सैनिकों और रेपिड रेस्पॉन्स फोर्स ने मिलकर काउंसिल बिल्डिंग को आईएस से छुड़ाया.

इससे पहले सैनिकों ने शहर के पूर्व में स्थित इंडस्ट्रियल डिस्ट्रिक्ट पर भी दोबारा कब्ज़ा कर लिया. संघर्ष में कई आईएस चरमपंथियों के मारे जाने की भी ख़बर है.

बगदाद से 50 किलोमीटर पश्चिम में स्थित फलुजा सबसे अधिक समय से इस्लामिक स्टेट के कब्ज़े में रहने वाला शहर है.

आईएस ने जनवरी 2014 में फलुजा पर कब्ज़ा किया था और छह महीने में उत्तर और पश्चिमी इराक़ के कई हिस्से भी उसके कब्ज़े में आ गए.

चार हफ्ते पहले सरकारी सेना ने फलुजा को आईएस के कब्ज़े से छुड़ाने के लिए अभियान शुरू किया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार