छह करोड़ से अधिक विस्थापित दुनिया में

  • 20 जून 2016
इमेज कॉपीरइट Press Association

संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी का कहना है कि संघर्ष से विस्थापित होने वाले लोगों की संख्या रिकार्ड स्तर पर पहुंच गई है.

एजेंसी के मुताबिक़ 2015 के अंत तक विस्थापितों की संख्या साढ़े छह करोड़ से अधिक हो गई थी. इनमें से बड़ी संख्या उन लोगों की है जो या तो शरणार्थी हैं या शरण मांग रहे हैं या विस्थापित हैं. इस संख्या में एक साल में क़रीब 50 लाख का इज़ाफ़ा हुआ है.

इसका मतलब यह हुआ कि हर 113 लोगों में से एक व्यक्ति शरणार्थी है.

संगठन के प्रमुख ने कहा कि यूरोप शरणार्थियों की समस्या का सामना कर रहा है, इस वजह से वहां विदेशी लोगों के प्रति भय का वातावरण बना हुआ है.

इमेज कॉपीरइट Italian navy via AP

यह दूसरे विश्व युद्ध के बाद सबसे बड़ी संख्या में लोगों का विस्थापन है.

'विश्व विस्थापन दिवस' के अवसर पर जारी अपनी वार्षिक रिपोर्ट में संयुक्त राष्ट्र की इस संस्था ने कहा है कि दुनियाभर में विस्थापितों की संख्या छह करोड़ को पार कर गई है.

रिपोर्ट के मुताबिक़ इनमें आधे से ज़्यादा विस्थापित लोग केवल तीन देशों यानि सीरिया, अफ़ग़ानिस्तान और सोमालिया से हैं.

संयुक्त राष्ट्र ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि यूरोप में प्रवासियों के संकट पर ध्यान केंद्रित होने के बावजूद इस बात को नज़रअंदाज़ नहीं किया जा सकता कि 86 फ़ीसदी से अधिक शरणार्थी कम और मध्यम आय वाले देशों से आ रहे हैं.

इंटरनेशनल ऑरगेनाइज़ेशन फ़ॉर माइग्रेशन के मुताबिक़ पिछले साल समुद्र के ज़रिए यूरोप आने वाले शरणार्थियों की संख्या 10 लाख से अधिक रही है, जबकि दूसरी एजेंसियों के मुताबिक़ विस्थापितों की यह संख्या और अधिक है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार