दुर्लभ नीला तोता 15 साल बाद नज़र आया

  • 27 जून 2016
सोलिटरी स्पिक्स मैकॉ इमेज कॉपीरइट Getty

विलुप्त माना जा रहा नीले रंग का एक दुर्लभ तोता ब्राज़ील में करीब 15 साल में पहली बार दिखाई दिया है.

एक वीडियो में स्पिक्स मैकॉ नामक इस तोते को बाहिया राज्य में पड़ों के ऊपर उड़ते देखा गया है.

पक्षियों के सरंक्षण के लिए काम करने वाली ब्राज़ीलियन सोसायटी के प्रमुख पेड्रो डेवेली का मानना है कि गिरफ़्तारी के डर से किसी शिकारी ने इस तोते को आज़ाद किया होगा.

इस इलाके में तोते को खोजने के लिए शुरू किया गया अभियान हाल ही में ख़त्म हुआ है.

माना जा रहा है कि ब्राज़ील में पेड़-पौधों की कमी के कारण स्पिक्स मैकॉ लुप्त होते चले गए.

इमेज कॉपीरइट Getty

क़तर और ब्राज़ील में स्पिक्स मैकॉ के लिए ख़ास इलाका विकसित किया जा रहा है ताकि जंगलों में इस प्रजाति के कुछ तोतों को वापस छोड़ा जा सके.

हॉलीवुड फ़िल्म 'रियो' में स्पिक्स मौकॉ प्रजाति के तोते को मुख्य किरदार में दिखाया गया था जिसके बाद ये प्रजाति काफ़ी मशहूर हुई थी.

इन्हें आख़िरी बार बाहिया में क्युरसॉ के रिहायशी इलाक़े में देखा गया था.

विलुप्त माने गए इस दुर्लभ तोते को देखे जाने की ख़बर पर हैरानी जताते हुए डेवेली कहते हैं कि तोते को देखने के बाद यहां के लोगों में गजब उत्साह देखा गया है.

स्थानीय अख़बार 'एस्टाडो साओ पाओलो' के मुताबिक एक बार नज़र आने के बाद इस तोते का कुछ पता नहीं चल पाया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार