ब्रिटेन अलग होने की प्रक्रिया तत्काल शुरू करे: ईयू

  • 28 जून 2016
इमेज कॉपीरइट Getty

यूरोपीय संसद ने अपने इमरजेंसी सत्र के बाद ब्रिटेन से कहा है कि वो यूरोपीय संघ से अलग होने की प्रक्रिया को जल्दी से जल्दी शुरू करे.

यूरोपीय आयोग के अध्यक्ष जां क्लॉद युंकर ने कहा, "ब्रिटेन को यह बताना चाहिए कि वो कब अलग होने की प्रक्रिया शुरू करेगा ताकि अनिश्चितता खत्म हो. ब्रिटेन इस मामले में चूहे बिल्ली का खेल न खेले."

इस मुद्दे पर संसद में ज़बर्दस्त बहस हुई जिस दौरान ईयू से निकलने की वकालत कर रहे ब्रितानी नेता नीजेल फराज ने जब भाषण देना शुरू किया तो सांसदों ने हूटिंग की.

फराज़ ने ईयू नेताओं पर आरोप लगाया कि वो ये मानने को तैयार नहीं हैं कि यूरोपीय यूनियन की राजनीतिक योजना फेल हो चुकी है.

युंकर ने यूरोपीय संसद को संबोधित करते हुए कहा कि ब्रिटेन और यूरोपीय संघ मित्र बने रहेंगे लेकिन ब्रिटेन को अपनी स्थिति स्पष्ट करनी चाहिए ताकि भ्रम न हो.

हाल ही में ब्रिटेन ने जनमत संग्रह के ज़रिए ईयू से अलग होने के पक्ष में वोट दिया था.

इसका विरोध कर रहे ब्रितानी प्रधानमंत्री डेविड कैमरन ने इसके बाद अक्तूबर में पद से इस्तीफ़ा देने की घोषणा की थी.

इमेज कॉपीरइट Reuters

जनमत संग्रह के बाद पहली बार ब्रितानी प्रधानमंत्री डेविड कैमरन यूरोपीय नेताओं से मिल रहे हैं.

कैमरन का कहना था कि ये अगले प्रधानमंत्री पर निर्भर होगा कि वो यूरोपीय संघ से निकलने की औपचारिक प्रक्रिया कब शुरू करते हैं.

इस बीच जर्मन चांसलर एंगेला मर्कल ने जर्मन संसद को संबोधित करते हुए कहा कि जो देश ईयू के बाज़ार तक पहुँच चाहते हैं उन्हें लोगों के आवाज़ाही की आज़ादी को स्वीकार करना ही होगा.

उनका कहना था, ‘‘मैं ये सुनिश्चित करूंगी कि ब्रिटेन के ईयू से अलग होने संबंधी वार्ताएं ऐसी न हो जिसमें एक ही पक्ष सारे लाभ ले जाए.’’

उधर युंकर ने कहा, ‘‘हमें ये स्थिति स्पष्ट करनी है जल्द से जल्द, लेकिन मैं अब भी दुखी हूं क्योंकि मैं न तो रोबोट हूं न ही ब्यूरोक्रैट और न ही टेक्नोक्रैट.’’

उनका कहना था, ‘‘मैं एक यूरोपियन हूं और मुझे ये कहने का पूरा हक है कि मुझे ब्रिटेन से ईयू से अलग होने के फैसले का अफसोस है.’’

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए