बग़दाद: धमाकों में 165 लोगों की मौत

  • 4 जुलाई 2016
रोता लड़का इमेज कॉपीरइट EPA

रविवार को इराक़ की राजधानी बग़दाद में हुए दो बम धमाकों में मरने वालों की संख्या 165 हो गई है.

बग़दाद के शीर्ष सुरक्षा अधिकारी ने पहलेे की इसकी आशंका जताई थी कि मरने वालों की संख्या 170 तक पहुंच सकती है. इन धमाकों में 150 से ज़्यादा लोग घायल हुए हैं.

इससे पहले बग़दाद के एक शीर्ष सुरक्षा अधिकारी मोहम्मद अल रुबाई ने कहा था कि राजधानी के कराडा इलाक़े में हुए धमाके में लगभग 170 लोगों की मौत हुई है.

इराक़ सरकार ने इन धमाकों में बड़ी संख्या में लोगों की मौत के बाद तीन दिन के राष्ट्रीय शोक का ऐलान किया है.

इस हमले को 2007 के बाद इराक़ में सबसे बड़ा हमला माना जा रहा है.

चरमपंथी संगठन इस्लामिक स्टेट ने इस हमले की ज़िम्मेदारी ली है.

इमेज कॉपीरइट AP

बग़दाद के कराडा ज़िले में एक विस्फ़ोटकों से भरी लॉरी से एक रेस्तरां के पास धमाका किया गया. धमाके के वक्त रमज़ान में रोज़े रखने वाले लोग वहाँ बड़ी तादाद में मौजूद थे.

दूसरा धमाका बग़दाद के उत्तर में स्थित एक शिया बहुल इलाक़े में हुआ, जिसमें 5 लोगों की मौत हो गई है.

कराडा में घटनास्थल का मुआयना करने पहुंचे इराक़ी प्रधानमंत्री हैदर अल आब्दी पर गुस्साए लोगों ने पथराव किया है.

घटना शनिवार शाम की है. वहाँ की व्यस्त सड़क रमज़ान के महीने में शाम के वक़्त ख़रीददारी करने वालों से पूरी तरह भरी हुई थी.

ये बम धमाके इराक़ी सेना के फलूजा को इस्लामिक स्टेट के कब्ज़े के छुड़ाने के एक सप्ताह के बाद ही हुए हैं.

इमेज कॉपीरइट AP

अधिकारियों के मुताबिक़ यह शहर बग़दाद पर हमला करने के लिए आईएस के लिए लाँचिंग पैड का काम करता था.

इराक़ के उत्तर और पश्चिमी इलाक़ों पर आईएस का कब्ज़ा है. इनमें इराक़ का दूसरा सबसे बड़ा शहर मोसूल भी शामिल है.

आईएस पर इराक़ और पड़ोसी देश सीरिया ने भारी दवाब बनाया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार