मदीना ब्लास्ट: 12 पाकिस्तानी हिरासत में

  • 8 जुलाई 2016
इमेज कॉपीरइट TWITTER

सऊदी अरब के गृह मंत्रालय का कहना है कि मदीना में पैगंबर की मस्जिद के पास आत्मघाती विस्फोट करने वाला व्यक्ति सऊदी नागरिक था.

हमलावर पैंगंबर मुहम्मद की मस्जिद के पास पार्किंग वाली जगह से मस्जिद में प्रवेश करने की कोशिश कर रहा था. जब सुरक्षा गार्ड ने उसे रोका तो उसने खुद को उड़ा लिया जिसमें चार सुरक्षा अधिकारी मारे गए और पांच घायल हो गए.

सऊदी गृह मंत्रालय ये भी कहा कि पांच जुलाई को होने वाले तीन आत्मघाती हमलों की जांच के सिलसिले में 19 लोगों को हिरासत में लिया गया जिनमें से 12 पाकिस्तानी हैं.

इमेज कॉपीरइट Zillur Rehman

गृह मंत्रालय का कहना है कि मस्जिद नबवी के पास धमाका करने वाला 26 वर्षीय सऊदी नागरिक था जो नशे का आदी था.

गौरतलब है कि पांच जुलाई को सऊदी अरब के तीन शहरों में आत्मघाती हमले किए गए. पहला जेद्दा में अमरीकी वाणिज्य दूतावास के बाहर, दूसरा शिया बहुल क्षेत्र कतिफ़ के बाजार में और तीसरा मदीना में पैगंबर की मस्जिद के पास.

इमेज कॉपीरइट AFP

सऊदी गृह मंत्रालय का कहना है कि कतिफ़ में हमला करने वाले 23 वर्षीय रहमान उमर, 20 वर्षीय इब्राहिम उमर और 20 वर्षीय अब्दुल करीम हुस्नी थे.

याद रहे कि सऊदी अधिकारियों का कहना था कि जेद्दा में अमरीकी वाणिज्य दूतावास के बाहर आत्मघाती विस्फोट करने वाला व्यक्ति पाकिस्तानी था लेकिन पाकिस्तान के गृह मंत्रालय ने फिलहाल इस बात की पुष्टि से इनकार किया है कि उक्त व्यक्ति पाकिस्तानी नागरिक है.

इमेज कॉपीरइट MOISaudiArabia

सऊदी गृह मंत्रालय के सत्यापित ट्विटर एकाउंट से जारी किए गए बयान में गया था कि हमलावर का नाम अब्दुल्ला गुलज़ार खान है जो एक पाकिस्तानी नागरिक है और 12 साल पहले ड्राइवर की नौकरी करने के लिए सऊदी अरब आया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार