तुर्कीः 'संसद सज़ाए-मौत पर सोच सकती है'

  • 17 जुलाई 2016
इमेज कॉपीरइट Reuters

तुर्की के अधिकारियों ने तख़्तापलट की कोशिश करने वालों की तलाश में रविवार को देश की सैन्य छावनियों पर छापेमारी की.

बीते कुछ घंटों में डेनिज़िली के पश्चिमी शहर में एक ऑपरेशन के दौरान सेना के एक कमांडर सहित 50 से अधिक जवानों को हिरासत में लिया गया. हजारों अफ़सर गिरफ़्तार किए गए हैं और क़रीब तीन हज़ार जज पद से हटाए गए हैं.

अब तक तख़्तापलट की कोशिश और उसके बाद हिंसा में 265 लोगों की मौत हो गई है.

इमेज कॉपीरइट EPA

राष्ट्रपति रेचप तैयप अर्दोआन ने कहा है कि संसद मौत की सज़ा पर विचार करेगी.

अर्दोआन ने तख़्तापलट की साज़िश के पीछे अमरीका में रह रहे इस्लामी धर्मगुरू फ़तहुल्लाह गुलेन का हाथ होने के आरोप लगाए हैं.

पढ़ें- कौन हैं अमरीका में बसे तुर्क फ़तहुल्लाह गुलैन?

हालांकि गुलैन इन आरोपों से इनकार कर चुके हैं. तुर्की ने अमरीका से गुलेन के प्रत्यर्पण की मांग की है. जवाब में अमरीकी विदेश मंत्री जॉन कैरी ने कहा कि तुर्की उन्हें इसके पुख़्ता सबूत दे.

अमरीका ने तुर्की से तख़्तापलट की जांच में क़ानूनी तरीक़े से चलने की अपील की और सरकार को संयम बरतने को कहा है.

इमेज कॉपीरइट EPA
पढ़ें- तुर्की की अमरीका से फ़तहुल्लाह गुलैन के प्रत्यर्पण की मांग

राष्ट्रीय ध्वज फहराते, गीत गाते इस्तांबूल और अंकारा की सड़कों पर लोग राष्ट्रपति रेचप तैयप अर्दोआन के प्रति समर्थन जता रहे हैं.

तुर्की में नाकाम रही बग़ावत पर ख़ास

इंस्ताबूल का मुख्य चौराहा नारों से गूंज रहा है. लोग चिल्ला रहे हैं, 'सैनिकों को न तो अपनी ज़मीन छीनने देंगे और न लोकतंत्र.'

इमेज कॉपीरइट AFP

सरकारी आंकड़ों के मुताबिक़ तख़्तापलट में आम लोगों और पुलिस सहित 161 लोग मारे गए हैं, जबकि 104 सैनिकों की मौत हुई है. घायलों की संख्या 1,440 है.

तस्वीरों में तुर्की में तख़्तापलट की कोशिश

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार