तुर्की ने मीडिया संस्थानों पर कसा शिकंजा

  • 28 जुलाई 2016
ताला इमेज कॉपीरइट AFP

तुर्की के अधिकारियों ने बीती 15 जुलाई को तख़्तापलट की नाकाम कोशिश के बाद कई मीडिया संस्थानों को बंद करने की घोषणा की है.

तुर्की में तीन न्यूज़ एजेंसियों, 16 टीवी चैनलों, 45 अख़बारों और 15 पत्रिकाओं को बंद कर दिया जाएगा.

अधिकारियों ने 47 अन्य पत्रकारों को हिरासत में लेने का आदेश भी दिया है. कुछ दिन पहले 42 पत्रकारों के ख़िलाफ़ भी वॉरंट जारी किया गया था.

इमेज कॉपीरइट Getty

स्थानीय मीडिया ने तुर्की के अधिकारियों के हवाले से ख़बर दी है कि नई सूची में अधिकतर पत्रकार ज़मान अख़बार के हैं जिसे बंद कर दिया गया है.

देश में सशस्त्र बलों के लगभग 1700 सदस्यों को पहले ही सेवामुक्त किया जा चुका है जिनमें 149 जनरल और एडमिरल शामिल हैं.

इमेज कॉपीरइट AP

सरकार का कहना है कि तख़्तापलट की नाकाम कोशिश के पीछे अमरीका में बैठे मौलवी फ़तहउल्लाह गुलेन का हाथ है जिससे वो इंकार करते हैं.

तुर्की में तख़्तापलट की कोशिश के दौरान कम से कम 246 लोग मारे गए थे और 2000 से अधिक लोग घायल हुए थे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार