तुर्की में 1389 सैनिक बर्ख़ास्त

  • 31 जुलाई 2016
इमेज कॉपीरइट Getty

तुर्की की सरकार ने ऐसे 1,389 सैन्यकर्मियों को बर्ख़ास्त कर दिया है जिन पर आरोप है कि वे तख़्तापलट की कोशिश में शामिल थे.

जिन लोगों को बर्ख़ास्त किया गया है उसमें राष्ट्रपित रेचप तैयब अर्दोआन के मुख्य सैन्य सलाहकार भी शामिल हैं.

अब तक तीन हज़ार से ज़्यादा सैन्यकर्मियों को बर्ख़ास्त किया जा चुका है.

तुर्की के राष्ट्रपति रेचप तैयब अर्दोआन ने बीते शनिवार को सभी सशस्त्र बलों को सीधे सरकार के अधीन करने की घोषणा की थी.

इस घोषणा के मुताबिक सरकार सभी सैन्य अकादमियों को बंद करने पर विचार कर रही है, इसके अलावा थल, जल और वायु सेना को रक्षा मंत्रालय के अधीन किया जा रहा है.

हालांकि इस प्रस्ताव को पहले संसद में पारित कराना होगा.

इमेज कॉपीरइट AP

उन्होंने तख़्तापलट की नाकाम कोशिश में धर्म गुरु फहतुल्ला गुलेन का हाथ बताया है. हालांकि गुलेन ने इ्ससे इनकार किया है.

15 जुलाई को तुर्की में तख़्तापलट की नाकाम कोशिश के दौरान 246 लोगों की मौत हुई थी.

इसके बाद देश भर में सार्वजनिक क्षेत्र में काम करने वाले 66 हज़ार कर्मियों को हटा दिया गया है और 55 हज़ार पासपोर्ट रद्द कर दिए गए हैं. सरकार ने 142 मीडिया आउटलेट को बंद करा दिया है.

देश में तीन महीने के लिए आपातकाल लगाने की घोषणा भी की गई है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार