कोलंबिया और फार्क विद्रोहियों में शांति समझौता

  • 25 अगस्त 2016
कोलंबिया, फार्क इमेज कॉपीरइट EPA

कोलंबिया की सरकार और फार्क विद्रोहियों के बीच शांति समझौते पर सहमति बन गई है.

दोनों पक्षों के प्रतिनिधियों ने राजधानी हवाना में इसका एलान किया.

इसके साथ ही करीब पांच दशक से चला आ रहा संघर्ष खत्म हो जाएगा.

हवाना में नवंबर 2012 से ही इस पर बातचीत चल रही थी. इसी साल जून में दोनों पक्ष संघर्ष को खत्म करने पर रजामंद हुए थे.

समझौते के तहत फार्क अपनी हथियारबंद लड़ाई बंद कर देगा और कानूनी प्रक्रिया में शामिल होगा.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

कोलंबिया के इस संघर्ष में दो लाख से ज़्यादा लोगों की जान गई है जबकि 10 लाख से ज़्यादा लोग विस्थापित हुए हैं.

फार्क वार्ताकार रोड्रिगो ग्रानदा ने ट्वीट किया है, “जब बातचीत के जरिए शांति बहाल होती है तो हारने या जीतने वाले के लिए कोई जगह नहीं होती, कोलंबिया जीता, मौत हारी.”

इससे पहले फार्क नेता तिमोशेंको ने ट्वीट कर बताया था कि कोलंबिया के स्थानीय समय के अनुसार बुधवार शाम छह बजे बातचीत खत्म होने और शांति समझौते का एलान किया जाएगा.

हालांकि शांति समझौते पर अभी देश की जनता ही आखिरी मुहर लगाएगी और ये काम जनमत संग्रह के जरिए इस साल अक्टूबर तक होने की उम्मीद है.

वामपंथी गोरिल्ला गुट साल 1964 से ही संघर्ष में जुटा था और इसे लातिन अमरीका की सबसे पुरानी लड़ाइयों में गिना जाता है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार