Got a TV Licence?

You need one to watch live TV on any channel or device, and BBC programmes on iPlayer. It’s the law.

Find out more
I don’t have a TV Licence.

लाइव रिपोर्टिंग

time_stated_uk

  1. Post update

    इस लाइव पेज के साथ बने रहने के लिए बीबीसी हिन्दी के सभी पाठकों और दर्शकों को शुक्रिया. हमारा ये लाइव पेज यहीं समाप्त हो रहा है. लेकिन बीबीसी हिंदी पर कोरोना को लेकर ख़बरों का सिलसिला लगातार जारी रहेगा. कोरोना वायरस महामारी से जुड़े देश-दुनिया के तमाम अपडेट्स, विश्लेषण पढ़ने और वीडियो देखने के लिए यहां क्लिक करें.

  2. लॉकडाउन के बीच कैसे मनाया गया महारानी का जन्मदिन

    ब्रिटिश महारानी

    ब्रिटेन की महारानी ने पहली बार अपना आधिकारिक जन्मदिन विंडसर कैसल में मनाया. इस मौक़े पर हुए अनोखे समारोह में वेल्स गार्ड ने परफॉर्म भी किया.

    कोरोना वायरस महामारी की वजह से इस बार पारंपरिक ट्रूपिंग द कलर परेड नहीं हुई.

    उनके 68 साल के कार्यकाल में ये सिर्फ़ दूसरी बार है जब लंदन में ये परेड नहीं हुई.

    समारोह के दौरान महारानी डायस पर अकेली बैठी थीं. आस-पास अधिकारी थे. लॉकडाउन शुरू होने के बाद सार्वजनिक तौर पर उन्हें पहली बार देखा गया था.

    महारानी ने अपना 94वां जन्मदिन अप्रैल में मनाया था. लेकिन आधिकारिक और सार्वजनिक तौर पर उनका जन्मदिन हर साल जून के दूसरे शनिवार को मनाया जाता है.

    ब्रिटिश महारानी

    इस बार महारानी के जन्मदिन पर बहुत कुछ अलग हुआ. विंडसर कैसल के केंद्रीय अहाते में गार्ड एक दूसरे से काफ़ी दूरी बनाकर खड़े थे.

    समारोह के लिए गार्ड्स ने नई मार्चिंग टैक्निक सीखी थी. जिसमें सोशल डिस्टेंसिंग का ख़ास ख्याल रखा गया था. परेड में पहले से कम गार्ड्स थे.

    आम तौर पर परेड ग्राउंड में गार्डमैन कंधे से कंधा मिलाकर खड़े होते हैं, लेकिन इस बार वो एक-दूसरे से 2.2 मीटर की दूरी पर खड़े थे.

    शाही परिवार का और कोई भी सदस्य इस समारोह में शामिल नहीं हुआ.

    परेड को देखने के लिए हर साल हज़ारों लोग और शाही परिवार के सदस्य मौजूद होते हैं. लेकिन इस बार ऐसा नहीं था.

    पिछली बार 1955 में ये आयोजन रद्द करना पड़ा था. उस वक़्त महारानी के राज तिलक को तीन साल हुए थे. तब ये आयोजन इसलिए रद्द कर दिया गया था, क्योंकि देशभर में रेल हड़ताल हो गई थी.

    ब्रिटिश महारानी
  3. ब्रेकिंग न्यूज़पाकिस्तान में लॉकडाउन के बदले 'स्मार्ट लॉकडाउन'

    कोरोना

    पाकिस्तानी अधिकारियों ने देश के सैकड़ों इलाकों में स्थानीय स्तर का लॉकडाउन लागू किया है. इसे स्मार्ट लॉकडाउन कहा जा रहा है. इसके तहत जिन इलाकों में संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं उन इलाकों को बंद किया जा रहा है और लोगों से घरों में रहने की अपील की जा रही है.

    मार्च में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान ने पूरे देश में लॉकडाउन घोषित किया था, लेकिन बाद में अर्थव्यवस्था का हवाला देते हुए उन्होंने लॉकडाउन में ढील दे दी थी.

    उन्होंने शनिवार को कहा है, 'हमारे जैसे देशों के पास केवल स्मार्ट लॉकडाउन का ही विकल्प है तभी जाकर इसकी मार ग़रीबों पर नहीं पड़ेगी.' साथ ही उन्होंने आम लोगों को चेताया भी है. उन्होंने कहा, 'मुझे इस बात का दुख है कि लोग पाबंदियों को गंभीरता से नहीं ले रहे हैं, ऐसी स्थिति में हमें सख्ती करनी पड़ेगी.'

    इमरान ख़ान ने कहा कि अगर लोग सावधानी बरतेंगे तभी स्थिति नियंत्रण में रह पाएगी. वैसे शनिवार को पाकिस्तान में एक दिन में सबसे ज़्यादा संक्रमण सामने आए हैं.

    शनिवार को पाकिस्तान में कोरोना संक्रमण के 6,472 नए मामले सामने आए हैं. इसके साथ ही देश में कुल संक्रमण की संख्या 1,32,405 हो गई है जबकि अब तक 2,551 लोगों की मौत हुई है.

  4. ब्रेकिंग न्यूज़यूरोपीय देशों ने की वैक्सीन के लिए डील

    कोरोना

    इटली, जर्मनी, फ्रांस और नीदरलैंड्स ने फार्मा कंपनी अस्त्राज़ेनेका के साथ एक समझौता किया है.

    इटली के स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि इस डील के तहत ये फार्मा कंपनी यूरोप के नागरिकों के लिए कोरोना वायरस वैक्सीन की आपूर्ति करेगी.

    ये कॉन्ट्रेक्ट संभावित वैक्सीन के 400 मीलियन डोज़ देने के लिए हुआ है. ये संभावित वैक्सीन ब्रिटेन में ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के साथ मिलकर विकसित की जा रही है. इसका एक्सपेरिमेंटल फेज़ सितंबर के अंत में ख़त्म होने की उम्मीद है.

    एक फे़सबुक पोस्ट में ख़बर की घोषणा करते हुए, रोबर्टो स्पेरंज़ा ने कहा कि इस साल के अंत तक डोज़ का पहला बैच मिलने की संभावना है.

    उन्होंने कहा,“आज की डील इटली और यूरोप के लिए पहला ठोक क़दम है. कोविड-19 का एकमात्र उपाय वैक्सीन ही है.”

  5. गुरप्रीत सैनी

    बीबीसी संवाददाता

    मेड ने पूछा, क्या मालिक हमें दिखाएंगे कोविड रिपोर्ट?

    महानगरों के घरों में काम करने वाली महिलाओं के सामने संकट लगातार बढ़ रहा है.

    और पढ़ें
    next
  6. बीजिंग में कोरोना के दूसरे चरण की आशंका

    बीजिंग

    चीन की राजधानी बीजिंग के एक बड़े बाज़ार में कोरोना वायरस संक्रमण फैलने के बाद आशंका जताई जा रही है कि यह वायरस के दूसरे चरण की शुरुआत है.

    बीजिंग के शीफादी थोक बाज़ार में दस हज़ार से ज़्यादा लोगों का टेस्ट किया जा रहा है. यह बाज़ार बीजिंग शहर में सब्जी और मांस की कुल ज़रूरत का 80 प्रतिशत हिस्सा मुहैया कराता है.

    यहां कोरोना के नए क्लस्टर का पता चला है और बाज़ार में काम करने वाले दर्जनों लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं. सोशल मीडिया पर नजर आने वाले वीडियोज के मुताबिक इस बाज़ार के आसपास सैकड़ों पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है.

    इसके अलावा कई इलाकों को बाहरी लोगों के लिए सील भी कर दिया गया है. बाज़ार के अलावा आस पास के इलाकों में पब्लिक ट्रांसपोर्ट को बंद कर दिया गया है. वहीं आस पास के स्कूलों को भी बंद कर दिया गया है.

  7. ब्रेकिंग न्यूज़प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ली बैठक

    प्रधानमंत्री कार्यालय के मुताबिक कोरोना महामारी को लेकर भारत की तैयारियों और उसकी समीक्षा को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वरिष्ठ मंत्रियों के साथ विस्तृत बैठक की है.

    View more on twitter
  8. ब्रेकिंग न्यूज़ICMR को गाइडलाइन बदलने के लिए कहिए तभी ज़्यादा टेस्ट संभव- सत्येंद्र जैन

    दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि अगर दिल्ली में कोरोना टेस्ट की संख्या बढ़ानी है तो इसके लिए इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च से गाइडलाइन बदलने के लिए कहना चाहिए. जैन ने कहा कि उनकी सरकार गाइडलाइन का उल्लंघन नहीं कर सकती है.

    View more on twitter
  9. Video content

    Video caption: वो देश जिसने कोरोना वायरस को हरा दिया

    जिस समय पूरी दुनिया कोरोना वायरस से जूझ रही है, एक देश है जिसने इस ख़तरनाक वायरस को हरा दिया है. लेकिन उसने ये कमाल कैसे किया?

  10. ब्रेकिंग न्यूज़ईरान ने कहा- आप नहीं मानेंगे तो फिर से पाबंदी लगाई जाएगी

    ईरान

    ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने शनिवार को कहा कि अगर स्वास्थ्य से जुड़े नियमों का पालन नहीं हुआ तो कोरोना वायरस को काबू में करने के लिए फिर से पाबंदी लगाई जाएगी. ईरान ने अप्रैल महीने में लॉकडाउन में ढील देने की प्रक्रिया शुरू की थी और इसके बाद से यहां दैनिक संक्रमण तेज़ी से बढ़ने लगे.

    रूहानी ने टेलीविजन पर दिए अपने भाषण में कहा है कि पर्यटन के कारण संक्रमण बढ़ा है. शनिवार को ईरान में कोरोना के 2,410 नए मामले सामने आए और इसके साथ ही ईरान में अब तक संक्रमितों की कुल संख्या 184,955 हो गई है.

    पिछले 24 घंटों में ईरान में 72 लोगों की मौत हुई है. अब तक कोरोना से यहां 8,730 लोगों की मौत हो चुकी है. रूहानी ने कहा कि अगर लोग मदद नहीं करेंगे तो फिर से पाबंदी लगाई जाएगी. ईरान के राष्ट्रपति ने कहा कि सब कुछ खुला रखना है तो नियमों का पालन करना होगा.

  11. जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के अनुसार कोरोना से प्रभावित ये टॉप 10 देश

    • विश्व: 7,669,317
    • अमरीका: 2,048,986
    • ब्राज़ील: 828,810
    • रूस: 519,458
    • भारत: 308,916
    • ब्रिटेन: 294,402
    • स्पेन: 243,209
    • इटली: 236,305
    • पेरू: 214,788
    • फ़्रांस: 193,220
    • जर्मनी: 187,263
  12. Video content

    Video caption: लॉकडाउन, प्रवासी मज़दूर, अर्थव्यवस्था के मुद्दे पर क्या बोले मोदी के मंत्री नितिन गडकरी?

    क्या मोदी सरकार से प्रवासी मज़दूरों का मामला संभालने में चूक हुई, क्या भारतीय अर्थव्यवस्था को दोबारा पटरी पर लाने की उसकी कोशिशें कामया‌ब रहेंगी.

  13. ब्रेकिंग न्यूज़'चीन को कोरोना की ज़िम्मेदारी लेनी चाहिए' पर बोले महातिर मोहम्मद

    मलेशिया

    मलेशिया के पूर्व प्रधानमंत्री महातिर मोहम्मद ने साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट को दिए इंटरव्यू में कहा है कि नवंबर में अगर ट्रंप एक बार फिर से राष्ट्रपति चुने जाते हैं तो वो आपदा साबित होंगे. महातिर मोहम्मद ने कुछ महीने पहले ही पीएम पद से इस्तीफ़ा दे दिया था.

    जब तक वो पीएम रहे तब तक भारत की मोदी सरकार के साथ भी मलेशिया के रिश्ते तल्ख रहे. 94 साल के महातिर मोहम्मद ने ट्रंप प्रशासन के उन दावों को भी ख़ारिज कर दिया जिनमें कहा जा रहा था कि चीन को कोरोना वायरस की महामारी की ज़िम्मेदारी लेनी चाहिए.

    महातिर मोहम्मद की पहचान पश्चिम विरोधी नेता की रही है. वो पश्चिमी देशों के ख़िलाफ़ खुलकर बोलते रहे हैं. महातिर ने कहा कि अमरीका के पूर्व उपराष्ट्रपति जो बाइडन ज़्यादा तार्किक उम्मीदवार हैं और उन्होंने हाल की नस्ली हिंसा पर संवेदनशीलता दिखाई है.

    महातिर ने कहा, ''मुझे नहीं पता कि वो फिर से चुने जाएंगे या नहीं लेकिन मैं उम्मीद करता हूं कि जो बाइडन उनसे अलग होंगे. हाल के कई मामलों में वर्तमान राष्ट्रपति का रुख़ किसी तीसरी दुनिया के देश की तरह रहा है.''

  14. अचानक से स्वाद और गंध जाना भी कोरोना के लक्षण में शामिल

    केंद्र सरकार ने कुछ हेल्थ प्रोफ़ेशनल्स के एक दस्तावेज़ प्रकाशित किए हैं जिसमें कोविड 19 से संक्रमित होने के लक्षण में स्वाद और गंध के जाने को भी शामिल किया गया है. क्लिनिकल मैनेजमेंट प्रोटोकॉल: कोविड- 19 दस्तावेज़ में सात लक्षणों के अलावा स्वाद और गंध के जाने को भी जगह दी गई है.

    इसके अलावा जो लक्षण हैं वो हैं- बुखार, खांसी, थकान, सांस लेने में दिक़्क़त, बलग़म, मांसपेशियों का दर्द, जुकाम, गले में खराश और दस्त.

    स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि व्यक्ति से व्यक्ति में संक्रमण नज़दीकी संपर्क के कारण ही होता है. मुख्य रूप से संक्रमित व्यक्ति के कफ और छींक से संक्रमण फैलता है.

    स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार छींक और कफ से निकले बारीक कण ज़मीन और दीवारों पर भी घर कर जाते हैं. ऐसे में फर्श या दीवार छूने से संक्रमित होने का ख़तरा रहता है.

    View more on twitter
  15. ब्रेकिंग न्यूज़पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री यूसुफ़ रज़ा गिलानी कोरोना संक्रमित

    पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री यूसुफ़ रज़ा गिलानी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं. शनिवार को उनके बेटे कासिम गिलानी ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी.

    कासिम गिलानी ने ट्वीट कर कहा है, ''इमरान ख़ान की सरकार और नेशनल अकाउंटिबिलिटी ब्यूरो को बहुत शुक्रिया! आपने सफलतापूर्वक मेरे पिता को ख़तरे में डाल दिया है. मेरे पिता की कोविड 19 जांच पॉजिटिव आई है.''

    पाकिस्तान पूर्व प्रधानमंत्री गिलानी गुरुवार को रावलपिंडी में एनएबी की सुनवाई में पेश हुए थे. गिलानी के ख़िलाफ़ भ्रष्टाचार के मामले में सुनवाई चल रही है. गिलानी ने जज से अनुरोध किया था कि उन्हें कोरोना संक्रमण को देखते हुए स्थायी रूप से कोर्ट में पेश नहीं होने की छूट दी जाए.

    View more on twitter
  16. गृह मंत्री अमित शाह कल दिल्ली के सीएम और एलजी से मिलेंगे

    समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार दिल्ली में स्वास्थ्य सेवाओं की बदतर हालत और कोरोना के बढ़ते मामले के बीच गृह मंत्री अमित शाह दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और एलजी अनिल बैजल से मुलाक़ात करेंगे.

    View more on twitter
  17. ब्रेकिंग न्यूज़मलेशिया में कोरोना वायरस के 43 नए मामले

    मलेशिया में कोरोना वायरस के 43 नए मामले सामने आए हैं. इसके साथ ही मलेशिया में संक्रमितों की कुल संख्या 8,445 हो गई है. स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार शनिवार को एक व्यक्ति की मौत हुई है.

  18. पाबंदी के बावजूद ऑस्ट्रेलिया में सड़क पर विरोध-प्रदर्शन के लिए उतरे हज़ारों लोग

    ऑस्ट्रेलिया के अलग-अलग शहरों में हज़ारों लोग शरणार्थियों के अधिकारों और 'ब्लैक लाइव्स मैटर' कैंपेन के समर्थन में सड़क पर उतरे.

    कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए ऑस्ट्रेलिया में इस तरह के विरोध-प्रदर्शन पर पाबंदी लेकिन इसके बावजूद लोग सड़क पर उतरे.

    ऑस्ट्रेलिया
    Image caption: मेलबर्न में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए प्रदर्शन करते लोग
    ऑस्ट्रेलिया
    Image caption: हालांकि पर्थ में जो रैली आयोजित की गई उसमें सोशल डिस्टेंसिंग का ख़्याल नहीं रखा गया. यहां लोगों ने पुलिस हिरासत में कालों की मौत के ख़िलाफ़ प्रदर्शन किया.
    ऑस्ट्रेलिया
    Image caption: पर्थ की रैली का ही एक दृश्य
  19. इंडोनेशिया में शनिवार को कोरोना के 1,014 नए मामले सामने आए

    इंडोनेशिया में शनिवार को कोरोना के 1,014 नए मामले सामने आए और 43 लोगों की मौत हुई. इसके साथ ही यहाँ अब संक्रमितों की कुल संख्या 37,420 हो गई है और मरने वालों की कुल तादाद 2,091 हो गई है.

  20. ब्रेकिंग न्यूज़नेपाल में सैकड़ों लोग सड़क पर उतरे, सात विदेशी नागरिक गिरफ़्तार

    नेपाल

    समाचार एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक़ नेपाल में लोग सड़क पर विरोध-प्रदर्शन कर रहे हैं. इनकी शिकायत है कि सरकार कोरोना मामले को ठीक से संभाल नहीं पा रही है इसलिए हालात लगातार ख़राब हो रहे हैं.

    इस मामले में शनिवार को पुलिस ने दस लोगों को गिरफ़्तार किया है. इनमें से सात लोगो विदेशी हैं. राजधानी काठमांडू में सैकड़ों लोग प्रदर्शन कर रहे हैं. मार्च में ही नेपाल ने लॉकडाउन की घोषणा की थी लेकिन तब से संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ती गई और अब तक 5,062 लोग संक्रमित हो चुके हैं.

    कोरोना से नेपाल में अब तक 16 लोगों की मौत हुई है. सरकार पर लोग आरोप लगा रहे हैं कि वो कोरोना मामले को ठीक से हैंडल नहीं कर पा रही है इसलिए आने वाले दिनों में हालात और ख़राब हो सकते हैं. रॉयटर्स के अनुसार नेपाल की राजधानी काठमांडू में कम से कम एक हज़ार लोग विरोध-प्रदर्शन के लिए जुटे हैं. यहीं से सात विदेशी नागरिकों को पुलिस ने गिरफ़्तार किया है.

    एक पुलिस अधिकारी बसंत लामा ने कहा कि विदेशी नागरिकों को नेपाल के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप के मामले में गिरफ़्तार किया गया है. इस हफ़्ते की शुरुआत में पुलिस ने प्रधानमंत्री के आवास के सामने प्रदर्शनकारियों के ख़िलाफ़ वाटर कैनन का इस्तेमाल किया था.

    प्रदर्शनकारियों की मांग है कि सरकार बेहतर क्वॉरंटीन सुविधा मुहैया कराए और मेडिकल आपूर्ति की ख़रीदारी में पारदर्शिता बरते. एक प्रदर्शनकारी रमेश प्रधान ने कहा, ''क्वॉरंटीन केंद्रों पर पानी की कमी है, साफ़-सफ़ाई नहीं है और सुरक्षा भी नहीं है.'' रमेश ने कहा कि यहां कोरोना रुकेगा नहीं बल्कि और बढ़ेगा.

    नेपाल सरकार का कहना है कि उसने कोरोना महामारी से लड़ने के लिए 8.9 करोड़ डॉलर खर्च किया है. 310,000 लोगों के टेस्ट किए गए हैं और 158,000 लोगों को क्वॉरंटीन में रखा गया है. लेकिन एक्टिविस्टों का कहना है कि तीन करोड़ की आबादी वाले नेपाल में यह नाकाफ़ी है.

    नेपाल