'नोट की चोट' - पाँच ग़लतियाँ