साइबर अपराध में किशोरों का दख़ल

साइबर अपराध में किशोरों का दख़ल

ब्रिटेन की नेशनल क्राइम एजेंसी का कहना है कि इंटरनेट हैकिंग में बड़ी संख्या में शामिल किशोर मानते हैं कि वे पकड़े नहीं जा सकते हैं.

दिलचस्प बात यह कि इनमें से ज़्यादातर ये काम पैसों के लिए भी नहीं करते...तो फिर क्या वजह होती है उनके हैकिंग में शामिल होने के पीछे.