'अमरीका जाना मंगल ग्रह की यात्रा जैसा था'

सोमालियाई शरणार्थी आब्दी इफ़्तिन ने केन्या से अमरीका पहुंचने के बाद उन अनुभवों को साझा किया जो उनकी पहचान से जुड़े हैं.

इफ़्तिन कहते हैं, "अमरीका के बारे में सबसे अच्छी बात ये है कि यहां बेहद शांति है लेकिन यहां के लोगों के ये समझाने में बड़ी दिक्कत है कि हम आख़िर कौन और कैसे हैं."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)