महात्मा गांधी के गीत का संगीत रचने वाली जोड़ी
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

महात्मा गांधी के गीत का संगीत रचने वाली जोड़ी

  • 17 सितंबर 2017

हुस्नलाल-भगतराम, दोनों ने शास्त्रीय संगीत की दीक्षा पं. दिलीप चंद्र वेदी से ली थी और अपने बड़े भाई पं. अमरनाथ से भी संगीत की कुछ बारीकियों को आत्मसात किया था, जो स्वयं पिछली शताब्दी के चौथे-पाँचवें दशक के मशहूर संगीतकार माने जाते हैं.

यह जानना भी दिलचस्प है कि महात्मा गांधी के लिए मो. रफ़ी का गाया हुआ ऐतिहासिक गीत 'सुनो सुनो ऐ दुनिया वालों बापू की यह अमर कहानी' इन दोनों ने ही मिलकर रचा था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे