गंगाजल इतना ख़ास क्यों है?
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

गंगा जल इतना ख़ास क्यों है?

  • 26 दिसंबर 2017

20वीं सदी की शुरुआत में जयपुर के महाराजा को लंदन बुलाया गया था. उन्होंने अपने सफ़र के लिए ख़ास इंतजाम किए और चांदी के कई कलशों में गंगाजल भरकर ले गए.

एक कलश बनाने के लिए 14 हज़ार चांदी के सिक्कों को पिघलाया गया. इनमें 4000 लीटर पानी आ सकता था. लेकिन वो अपने साथ इतना गंगाजल लेकर क्यों गए थे?

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे