प्यार, इश्क़ और मुश्किल
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

प्यार, इश्क़ और मुश्किल

  • 14 फरवरी 2018

घर से भागे प्रेमी जोड़ों के लिए सरकारी संरक्षण में एक पनाहगाह है. ये कोई क़ैदख़ाना नहीं. ये उन जोड़ों के लिए आसरा है जिनके अपने घरवाले ही दुश्मन बन गए हैं.

यहां के इंचार्ज का दावा है कि पिछले दस साल में 400 जोड़े यहां आ चुके हैं, जिनमें से 95 फ़ीसदी अलग-अलग जाति या धर्म के थे.

शूट-एडिट: बुशरा शेख़

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे