साज से बदलाव
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

मर्द ही नहीं महिलाएँ भी संभाल सकती हैं नादस्वरम

  • 6 मार्च 2018

आम तौर पर इसे पुरुषों का वाद्य यंत्र समझा जाता है लेकिन वैष्णवी ने इसे बजाने में महारत हासिल कर ली है. और जनता की तरफ़ से उन्हें ख़ासा प्रोत्साहन भी मिल रहा है.