एक चैंपियन बॉक्सर - जो अखाड़े के बाहर भी करती रही एक मक़सद के लिए लड़ाई

एक चैंपियन बॉक्सर - जो अखाड़े के बाहर भी करती रही एक मक़सद के लिए लड़ाई

वो नस्लभेद से लड़ीं, पुरूषों के वर्चस्व से लड़ीं, निजी ज़िंदगी में मिले आघातों से लड़ीं. और एक चैंपियन बॉक्सर बनीं. अया सिसोको की कहानी अब फ़्रांस के स्कूलों में पढ़ाई जा रही है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)