कैसा हो सपनो का घर
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

कैसा हो सपनों का घर

  • 9 मई 2018

भारत के कर्नाटक राज़्य के चुनाव में अब ज़्यादा समय नहीं बचा है. राजनेता जिन लोगों को लुभाने की कोशिश कर रहे हैं उनमें ऐसे 70 लाख लोग भी शामिल हैं जो झुग्गी बस्तियों में रहते हैं. बीबीसी की एक टीम मैसूर में ऐसी ही एक झुग्गी में पहुँची जहाँ बीबीसी के विज़ुअल आर्टिस्ट पुनीत बरनाला ने झुग्गीवासियों के सपनों को कैनवस पर उतारा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे