धंधा पानी
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

धंधा-पानी: ब्रेक्सिट का भारत का क्या असर

  • 24 नवंबर 2018

ब्रिटेन में इन दिनों ब्रेक्सिट को लेकर भारी सियासी उथल-पुथल मची हुई है. इस तलाकनामें की शर्तें और तौर-तरीके अब तय होने शुरू हैं.

यूरोपीय संघ, जिसे ईयू भी कहा जाता है, में ब्रिटेन को छोड़कर 27 यूरोपीय देशों की आर्थिक और राजनीतिक भागीदारी है.द्वितीय विश्व युद्ध के बाद 1951 में आर्थिक सहयोग बढ़ाने के लिए यूरोपीय संघ का निर्माण हुआ.

इसके पीछे सोच ये थी कि जो देश एक साथ व्यापार करेंगे वो एक दूसरे के खिलाफ़ युद्ध करने से बचेंगे. इन देशों में सामान और लोगों की बेरोक-टोक आवाजाही होने लगी मानों सभी सदस्य देश एक पूरा देश हों. ब्रेक्सिट की प्रक्रिया मार्च 2019 से शुरू होगी और दिसंबर 2020 तक चलेगी. ट्रांजिशन पीरियड दौरान अब तक चली आ रही सुविधाएं जारी रहेंगी.

जानिए क्या है ब्रेक्सिट और भारत पर इसका क्या असर होगा ?

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूबपर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे