इस तरह शुरू हुआ जहाँगीर और नूरजहाँ का इश्क
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

इस तरह शुरू हुआ जहाँगीर और नूरजहाँ का इश्क़

  • 8 फरवरी 2019

हाल ही में पार्वती शर्मा की एक किताब प्रकाशित हुई है ' एन इंटीमेट पोर्टरेट ऑफ़ अ ग्रेट मुग़ल जहाँगीर' जिसमें उन्होंने मुग़ल सल्तनत के चौथे बादशाह जहाँगीर के जीवन पर बारीक नज़र दौड़ाई है.

आम लोगों की धारणा है कि अकबर का बेटा और औरंगज़ेब का दादा जहाँगीर एक कमज़ोर बादशाह था जिसका ध्यान बादशाहत में कम, जीवन का आनंद उठाने में अधिक लगता था. लेकिन क्या जहाँगीर का ये मूल्यांकन सही है? बता रहे हैं रेहान फ़ज़ल आज की विवेचना में.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)