बस्तर: सालों के संघर्ष के बाद वापस मिली ज़मीन
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

ज़मीन के लिए सालों संघर्ष करनेवाले बस्तर के आदिवासी

  • 9 अप्रैल 2019

नक्सलवाद प्रभावित छत्तीसगढ़ की बस्तर लोकसभा सीट पर भी 11 अप्रैल को वोटिंग होनी है.

जंगल और खनिज संपदा से संपन्न बस्तर के लोहांडीगुड़ा इलाके के लोगों को 12 साल के संघर्ष के बाद अपनी ज़मीन वापस मिली है.

ये ज़मीन स्टील कारख़ाने के लिए अधिगृहित की गई थी. कांग्रेस ने विधानसभा चुनाव से पहले आदिवासियों की ज़मीन वापस दिलाने का वादा किया था.

लोहांडीगुड़ा के आदिवासियों और किसानों के संघर्ष पर बीबीसी संवाददाता सलमान रावी की रिपोर्ट.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे