जेट कैसे आया अर्श से फ़र्श तक
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

जेट कैसे आया अर्श से फ़र्श तक

  • 18 अप्रैल 2019

भारी आर्थिक संकट का सामना कर रही जेट एयरवेज़ ने अपनी विमान सेवा अस्थाई तौर पर निलंबित कर दी क्योंकि कर्ज़दाताओं के एक कंसोर्शियम ने विमान सेवा का ऑपरेशन जारी रखने के लिए 983 करोड़ रुपये की इमरजेंसी फंडिंग देने से इनकार कर दिया.

कभी भारत की सबसे बड़ी निजी विमान सेवा रही जेट ने ये कहते हुए अपने घरेलू और अंतरराष्ट्रीय सभी विमानों की सेवा निलंबित कर दी कि कंपनी के पास ईंधन और दूसरे ज़रूरी कामकाज़ी खर्च के लिए पैसे नहीं हैं.

कंपनी के इस फ़ैसले के साथ ही जेट के क़रीब 17 हज़ार कर्मचारी लगभग बेरोज़गार हो गए हैं जिनमें सैकड़ों पायलट भी शामिल हैं जिन्हें कई महीने से तनख़्वाह तक नहीं मिली है.

भारत के विमानन इतिहास में अहम भूमिका निभाने वाला जेट एयरवेज़ आखिर इस हाल में पहुंचा कैसे. बीबीसी संवाददाता समीर हाशमी की रिपोर्ट.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे