यमुना एक्सप्रेस वे पर क्यों होते हैं इतने हादसे?
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

यमुना एक्सप्रेस वे पर क्यों होते हैं इतने हादसे?

  • 17 जुलाई 2019

वर्ष 2012 में उत्तेर प्रदेश के तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने जब यमुना एक्सप्रेस वे का उद्धाटन किया तो कहा गया कि इससे आगरा से दिल्ली की दूरी ढाई घंटे में नाप ली जाएगी.

लेकिन इस दूरी को नापने निकले कई लोगों में से कुछ कभी अपनी मंज़िल तक नहीं पहुंच सके.

यमुना एक्सप्रेस वे पर पर जब बीबीसी की टीम ये जानने पहुंची कि आख़िर क्यों इतनी जानें जा रही हैं, तो सामने आईं इंजीनियरिंग से जुड़ी ऐसी गड़बड़ियां, जो रोड एक्सीडेंट को और घातक बना सकती हैं. देखिए यह पूरी रिपोर्ट.

रिपोर्ट- कीर्ति दुबे

वीडियो- काशिफ़ सिद्दिक़ी

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूबपर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)