करगिल घुसपैठ के चश्मदीद
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

कारगिल: वो शख़्स जिसने सबसे पहले कारगिल में घुसपैठियों को देखा

  • 24 जुलाई 2019

कारगिल की लड़ाई के 20 साल हो गए हैं.

साल 1999 में हुई इस लड़ाई में क़रीब 610 भारतीय सैनिकों की मौत हुई. कारगिल के गरकौन गांव में रहने वाले एक चरवाहे ने सबसे पहले सैनिकों को इस इलाके में हो रही घुसपैठ की ख़बर दी थी.

और जब एक तरफ भारतीय सेना जंग के मोर्चे पर खड़ी थी तो दूसरी तरफ़ इस गांव के कई निवासी थे जो इस काम में उनकी मदद कर रहे थे.

सेना की मदद करने वालों के लिए सरकार सीमा क्षेत्र विकास कार्यक्रम चलाती है. लेकिन कारगिल के 20 साल बाद सेना की मदद करने वालों को क्या मिला.

देखिए बीबीसी संवाददाता अरविंद छाबड़ा की रिपोर्ट.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे