बंदरों को 'विनाशक' बताने वाली सरकार क्या कर रही है?
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

बंदरों को 'विनाशक' बताने वाली सरकार क्या कर रही है?

  • 26 जुलाई 2019

शिमला में बंदरों की आबादी न केवल इंसानों के लिए ख़तरा बन गयी है, बल्कि हिमाचल प्रदेश के ग्रामीण इलाकों में किसानों की आजीविका के लिए भी कठिनाइयां पैदा कर रही है.

अकेले जून 2019 में आईजीएमसी में बंदरों के हमले/काटने के सबसे अधिक 141 मामले दर्ज किये गये हैं. हिमाचल प्रदेश वन विभाग की रिपोर्ट के बाद केंद्रीय पर्यावरण मंत्रालय ने शिमला के शहरी इलाकों में बंदरों को एक साल के लिए वर्मिन (विनाशक) घोषित कर दिया है.

वीडियो: अश्विनी शर्मा/कमल ठाकुर

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूबपर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे