नागरिकता कानून और मुस्लिमों के विरोध पर क्या बोले मौलाना मदनी?
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

नागरिकता कानून और मुस्लिमों के विरोध पर क्या बोले मौलाना मदनी?

  • 27 दिसंबर 2019

नागरिकता संशोधन कानून को लेकर मुसलमानों के गुस्से पर जमीयत उलेमा-ए-हिन्द के जनरल सेक्रेटरी मौलाना महमूद मदनी का कहना है कि मुस्लिम समाज को दूसरे मज़हब के लोगों को नागरिकता दिए जाने पर कोई एतराज़ नहीं है लेकिन इस मामले में दिक्कत ये है कि उन्हें बेदख़ल जैसा महसूस हो रहा है.

ऐसा लग रहा है कि उन्हें किसी चीज़ से बाहर रखा जा रहा हो और इस गुस्से की वजह यही है. इसके अलावा उन्हें विरोध करने से रोका जा रहा है, जिससे गुस्सा और भड़क रहा है.

वीडियो: शकील अख़्तर/तपस मलिक/शिबशंकर चटर्जी

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)