कोरोना वायरस पर गर्मी के असर पर नई रिसर्च क्या कहती है?

टाइफ़ाइड गर्मी के मौसम में पीक पर होता है. खसरे के केस गर्म इलाकों में गरमी के मौसम में कम हो जाते हैं, वहीं ट्रॉपिकल इलाकों में शुष्क मौसम में खसरे के केस पीक पर होते हैं.

शायद इसलिए ही अब लोग पूछ रहे हैं कि क्या कोविड 19 पर भी मौसम का असर होगा. अभी तक एक्सपर्ट्स कह रहे थे कि गरमी का कोविड-19 पर क्या असर होगा, इसके बारे में कोई स्पष्ट जानकारी नहीं है. लेकिन कोविड-19 पर लगातार रिसर्च चल रही है और जो भी अपडेट आ रहा है, वो हम आपको बता रहे हैं.

वीडियो: सर्वप्रिया सांगवान और देबलिन रॉय

इमेज स्रोत, MohFW, GoI

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)