कोरोना वायरस से जुड़े वो सवाल, जो भारत के सामने हैं

कोरोना वायरस से जुड़े वो सवाल, जो भारत के सामने हैं

भारत में लॉकडाउन खुलने के हफ़्तों बाद और कोविड-19 का पहला मामला सामने आने के चार महीनों बाद भी यहां कोरोना वायरस के मामले तेज़ी से बढ़ रहे हैं. इस संकट से जुड़ी पाँच अहम बातें ग़ौर करने लायक़ हैं, जिनके बारे में हम यहाँ बता रहे हैं. ये कह सकते हैं कि भारत में स्थिति को ठीक से संभाला गया है. यहां कोरोना से संक्रमण के तीन लाख 20 हज़ार मामले सामने आए हैं. इससे भारत संक्रमण के मामलों में रूस, ब्राज़ील और अमरीका के बाद चौथे नंबर पर आ गया है. लेकिन कॉर्नेल यूनिवर्सिटी में अर्थशास्त्र के प्रोफ़ेसर कौशिक बसु के मुताबिक़ भारत प्रतिव्यक्ति संक्रमण के लिहाज़ से 143वें स्थान पर है. वायरस की प्रभावी प्रजनन संख्या गिर गई है. यह एक बीमारी के फैलने की क्षमता को मापने का एक तरीक़ा है. साथ ही रिपोर्ट किए गए संक्रमण के मामलों के दोगुना होने का समय भी बढ़ गया है. साथ ही, देश में कोरोना वायरस के मामलों में अब भी तेज़ी बन हुई है. मुंबई, दिल्ली और अहमदाबाद जैसे हॉटस्पॉट शहरों में लोगों को अस्पताल नहीं मिल रहे हैं और मौते हो रही हैं.

वीडियो: सर्वप्रिया सांगवान और देबलिन रॉय