विकास दुबे: ‘एनकाउंटर’ के बाद बिकरू गांव का हाल कैसा है?

विकास दुबे: ‘एनकाउंटर’ के बाद बिकरू गांव का हाल कैसा है?

कानपुर में कथित मुठभेड़ में मारे गए विकास दुबे की एक ओर हैलट अस्पताल में पोस्टमॉर्टम की कार्रवाई और फिर भैरवघाट में अंतिम संस्कार की तैयारियां की जा रही थीं तो दूसरी ओर वहां से क़रीब 40 किलोमीटर दूर बिकरू गांव में पिछले एक हफ़्ते से पसरा सन्नाटा और गहरा गया था.

बिकरू गांव के ज़्यादातर घरों से लोग कथित तौर पर पुलिस के डर से तीन जुलाई के बाद से ही पलायन कर चुके हैं जबकि कुछ घरों में महिलाएं और बच्चे हैं लेकिन पुरुष सदस्य नहीं हैं.

रात में क़रीब आठ बजे बिकरू गांव के भीतर पहुंचने पर अँधेरी सड़कों पर पसरे सन्नाटे को पुलिस और पीएसी के जवानों की बातचीत और चहलक़दमी ही तोड़ती है. पूरी रिपोर्ट, इस वीडियो में.

स्टोरी और आवाज़: समीरात्मज मिश्र, बीबीसी हिन्दी के लिए

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)