मूर्तियों पर विवाद: कल के नायक अब खलनायक कैसे?

मूर्तियों पर विवाद: कल के नायक अब खलनायक कैसे?

काले अमरीकी जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के विरोध में यूं तो दुनियाभर में नस्लवाद के ख़िलाफ़ प्रदर्शन हुए, लेकिन अमरीका से हज़ारों मील दूर ब्रिस्टल की इस घटना ने विरोध प्रदर्शनों के इतिहास में एक नया अध्याय जोड़ दिया. इससे पता चलता है कि बेजान मूर्तियों में भी कितनी जान होती है और मौन मूर्तियां कितनी मुखरता से इतिहास बयां करती हैं.

प्रोड्यूसर- संदीप सोनी

प्रजेंटर- मोहन लाल शर्मा

वीडियो: काशिफ़ सिद्दीक़ी

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)