ध्रुवास्त्र मिसाइल का टेस्ट हुआ सफल, कितनी ख़तरनाक है यह मिसाइल?

ध्रुवास्त्र मिसाइल का टेस्ट हुआ सफल, कितनी ख़तरनाक है यह मिसाइल?

एंटी टैंक मिसाइल ‘ध्रुवास्त्र’ का सफलतापूर्वक टेस्ट कर लिया गया. यह टेस्ट ओडिशा के आईटीआर बालेश्वर में किया गया.

ध्रुवास्त्र मिसाइल मेड इन इंडिया मुहिम के तहत तैयार की गई है.

इसका इस्तेमाल भारतीय सेना के ध्रुव हेलिकॉप्टर के साथ किया जाएगा. हालांकि टेस्ट के दौरान हेलिकॉप्टर का इस्तेमाल नहीं किया गया.

पहले इस मिसाइल का नाम नाग था, जिसे बदल दिया गया. इस मिसाइल की क्षमता 4 किलोमीटर तक बताई जा रही है.

DRDO के अनुसार ध्रुवास्त्र तीसरी पीढ़ी की एंटी टैंक मिसाइल है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)