कोराना काल में क्लासरूम: सोलापुर में दीवार बनी ब्लैकबोर्ड

कोराना काल में क्लासरूम: सोलापुर में दीवार बनी ब्लैकबोर्ड

कोराना काल में क्लासरूम की पढ़ाई घर तक पहुंच गई है. ऑनलाइन क्लासेस मोबाइल और कंप्यूटर में सिमट गई है.

लेकिन कई ग़रीब बच्चे ऐसे नहीं पढ़ पाते क्योंकि उनके पास कंप्यूटर या स्मार्टफ़ोन नहीं होते.

पर उनके लिए क़िताबें और उनके सबक दीवारों पर छप गए.

ये तरीका अपनाया महाराष्ट्र के सोलापुर के आशा मराठी स्कूल ने. देखिए हमारे सहयोगी मयंक भागवत की रिपोर्ट.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)