अन्ना चांडी: भारत में हाईकोर्ट की जज बनने वालीं पहली महिला

अन्ना चांडी: भारत में हाईकोर्ट की जज बनने वालीं पहली महिला

अन्ना चांडी केरल राज्य में क़ानून की डिग्री हासिल करने वाली पहली मलयाली महिला मानी जाती हैं और सन् 1959 में वे केरल हाईकोर्ट की पहली महिला जज बनीं.

नारीवादी सोच वाली अन्ना चांडी ने महिलाओं के अधिकारों के लिए आवाज़ उठाई और पारंपरिक तौर पर जिन ज़िम्मेदारियों से महिलाओं को जोड़ा गया था, उसमें भी बदलाव पर ज़ोर दिया.

अन्ना चांडी ने महिलाओं के लिए सरकारी नौकरियों में आरक्षण की मांग उठाई और उनकी आरक्षण देने की मांग का असर दिखा और केरल में महिलाओं की नौकरी का रास्ता आसान हुआ.

बीबीसी हिंदी दस ऐसी महिलाओं की कहानी ला रहा है जिन्होंने लोकतंत्र की नींव मज़बूत की इसकी पांचवी कड़ी में देखिए पंजाब की इंदरजीत कौर कहानी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)