COVER STORY: भारत-चीन रिश्ते में तिब्बत का पेंच

COVER STORY: भारत-चीन रिश्ते में तिब्बत का पेंच

53 साल के तिब्बती नाइमा तेनज़िन जब पैंगोंग लेक के पास गश्त लगा रहे थे तभी एक पुराने लैंडमाइन पर उनका पैर पड़ गया और उनकी मौत हो गई.

उनके निधन को लेकर सरकार ने कोई आधिकारिक बयान तो जारी नहीं किया पर जिस सम्मान से उनका अंतिम संस्कार किया गया उससे लद्दाख के तिब्बती शरणार्थियों की मांग को तवज्जो मिलने की चर्चा गर्म है.

बीबीसी संवादादाता आमिर पीरज़ादा ने तेनज़िन के परिवार से मुलाक़ात की.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूबपर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)