कोरोना के मरीज़ों की ज़िंदगी बचाने वाली महिला

कोरोना के मरीज़ों की ज़िंदगी बचाने वाली महिला

नीलम सिंह पिछले पाँच महीनों से मुबंई में एंबुलेंस चला रही हैं. आमतौर पर वो एक स्कूल बस चलाती हैं, लेकिन कोविड-19 के बढ़ते मामलों के चलते कई स्कूल बसों को एंबुलेंस में बदल दिया गया.

नीलम सिंह की इस नौकरी में कई ख़तरे भी हैं. वो और उनके परिवार के लोग कोरोना संक्रमित हो चुके हैं. नीलम बताती हैं कि कई लोगों ने उनका हौसला बढ़ाया. जिसके चलते उन्होंने अपना काम जारी रखा.

वीडियोः बीबीसी मराठी

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)