पाकिस्तान में मार्शल आर्ट से हिंसा के ज़ख़्म भरने की कोशिश

पाकिस्तान में मार्शल आर्ट से हिंसा के ज़ख़्म भरने की कोशिश

पाकिस्तान के बलूचिस्तान की राजधानी क्वेटा बीते एक दशक में कई भयानक हमलों की गवाह रही है. इनमें से ज़्यादातर के निशाने पर शहर का शिया हज़ारा समुदाय रहा है.

ऐसे में यहां के जाने-माने मार्शल आर्ट ट्रेनर मास्टर मुबारक अली शान ने बीड़ा उठाया है स्थानीय युवाओं को शाओलिन सिखाने का, ताकि वो इन हमलों के मानसिक आघात से उबर सकें.

शाओलिन कुंग-फ़ू की सबसे पुरानी विधाओं में से एक है. देखिए क्वेटा से सादुल्लाह अख़्तर की ये रिपोर्ट.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)