कोरोनाकाल में बढ़ती अनचाही प्रेग्नेंसी

कोरोनाकाल में बढ़ती अनचाही प्रेग्नेंसी

कोरोनाकाल की शुरुआत से ही भारत में सरकारी स्वास्थ्य व्यवस्था पर लगातार दबाव बना हुआ है.

इसका सीधा असर सरकारी अस्पतालों में मिलने वाली परिवार नियोजन की सुविधाओं पर पड़ा है. तमाम अस्पतालों में गर्भनिरोधक दवाइयों की कमी है और परिवार नियोजन के ऑपरेशन भी नहीं हो पा रहे.

एक रिपोर्ट के मुताबिक़ अगर ऐसा ही चलता रहा तो क़रीब तीस लाख महिलाओं को अनचाहे गर्भ का सामना करना पड़ सकता है. देखिए बीबीसी संवाददाता प्राजक्ता धुलप की रिपोर्ट.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)