भारत-ऑस्ट्रेलिया मैचः टीम में ना होकर भी चहल कैसे बने मैच के हीरो?

भारत-ऑस्ट्रेलिया मैचः टीम में ना होकर भी चहल कैसे बने मैच के हीरो?

तीन मैचों की सिरीज़ के पहले मैच में भारत ने मेज़बान ऑस्ट्रेलिया को 11 रनों से हरा दिया.

यह आंकड़े तो बहुत सामान्य से मैच के लग रहे हैं. लेकिन मैच के बीच में बहुत रोमांच छिपा है.

टॉस हारने के बाद पहले खेलते हुए भारत की पारी मुश्किल में फंसी हुई थी. 17 ओवर में भारत 114 रनों पर 6 विकेट गंवा चुका था.

फिर रविंद्र जडेजा ने चौके-छक्के लगाने शुरू किए. इस बीच हैमस्ट्रिंग के चलते वो लंगड़ाते हुए भी बैटिंग कर रहे थे.

फिर पारी के आखिरी ओवर में मिचेल स्टार्क की एक गेंद जडेजा के हेलमेट पर ज़ोर से लगी.

जडेजा ने इसके बाद भी पूरा ओवर खेला, उन्होंने इस ओवर में दो चौके भी लगाए. जडेजा ने 23 गेंदों पर नाबाद 44 रन बनाए.

जब गेंदबाजी की बारी आई तो जडेजा की जगह युजवेंद्र चहल मैदान में दाखिल हुए, जो कि अभी तक सिर्फ बेंच पर ही बैठे हुए थे.

मालूम चला कि कनकशन नियम के चलते रविंद्र जडेजा की जगह अब चहल बाकी का मैच खेलेंगे, और साथ में गेंदबाजी भी कर सकेंगे.

चहल की गेंदबाजी के दम पर भारत ने यह मैच आसानी से जीत लिया.

स्टोरी और आवाज़ः नवीन नेगी

वीडियो एडिटः मनीष जालुई

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)