किसानों ने निकाला अपना अख़बार

किसानों ने निकाला अपना अख़बार

नए कृषि क़ानूनों को वापस लेने की मांग को लेकर किसानों के आंदोलन को तीन हफ़्ते से ज़्यादा हो गए हैं. सरकार और किसान प्रतिनिधियों के बीच कई दौर की बातचीत भी हो चुकी है, लेकिन कोई निर्णायक हल नहीं निकल पा रहा.

अपनी मांगों के समर्थन में किसान रिले भूख हड़ताल पर हैं. इस बीच प्रदर्शनकारी लोगों तक अपनी बात पहुंचाने के लिए किसानों ने ट्रॉली टाइम्स नाम का अख़बार शुरू किया है, जिसकी 2000 प्रतियां गुड़गांव में छापी गई हैं. बीबीसी संवाददाता अरविंद छाबड़ा की रिपोर्ट.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूबपर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)