रोम के जलने पर ‘बांसुरी बजाने वाले’ नीरो की कहानी

रोम के जलने पर ‘बांसुरी बजाने वाले’ नीरो की कहानी

"जब रोम जल रहा था, तो नीरो सुख और चैन की बाँसुरी बजा रहा था." यह कहावत रोमन सम्राट नीरो के बारे में मशहूर है. नीरो पर रोम में आग लगवाने का आरोप भी लगाया जाता है और कहा जाता है कि उसने जानबूझकर ऐसा किया. नीरो को इतिहास के एक ऐसे क्रूर शासक के रूप में जाना जाता है, जिसने अपनी मां, सौतेले भाइयों और पत्नियों की हत्या कराई थी और अपने दरबार में मौजूद किन्नरों से शादियां की थी. देखिए नीरो के जीवन की कहानी.

स्टोरीः टीम बीबीसी

आवाज़ः नवीन नेगी

वीडियो एडिटः देबलिन रॉय

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)