क्या महंगाई और बढ़ने वाली है?

क्या महंगाई और बढ़ने वाली है?

महंगाई के नए आंकड़े आ गए हैं. जून महीने में महंगाई बढ़ने की दर यानी मुद्रास्फीति की दर में मामूली गिरावट दर्ज हुई है. मई में यह दर 6.3% थी जबकि जून में घटकर 6.26% हो गई है. आम आदमी की नज़र से देखेंगे तो यह खोदा पहाड़ निकली चुहिया जैसी बात होगी. लेकिन अर्थनीति के जानकार और रिजर्व बैंक के कामकाज पर नज़र रखेन वाले विशेषज्ञ इस आंकड़े से काफ़ी उत्साहित हैं.इसकी सबसे बड़ी वजह तो यह है कि ज़्यादातर जानकारों को महंगाई में और तेज़ उछाल की आशंका थी. अलग अलग चैनलों और अखबारों या एजेंसियों के सर्वे में यह आंकड़ा 6.5 से लेकर 6.9 प्रतिशत तक होने के अनुमान लगाए गए थे. इसीलिए यह आंकड़ा इन सबके लिए एक सुखद आश्चर्य की तरह आया है. हालांकि अब भी महंगाई की दर चार से छह परसेंट के बीच नहीं है यानी रिजर्व बैंक ने महंगाई के लिए जो लक्ष्य रखा हुआ है उस दायरे से यह अब भी ऊपर है.

स्टोरी: आलोक जोशी

आवाज़: भरत शर्मा

वीडियो एडिटिंग: मनीष जालुई

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)