कोरोना के चलते बढ़ सकते हैं डायबिटीज के मामले?

कोरोना के चलते बढ़ सकते हैं डायबिटीज के मामले?

डायबिटीज़ से जूझ रहे दुनिया के हर छह लोगों में से एक भारत में है. एक अनुमान के अनुसार भारत में 7.7 करोड़ डायबिटीज़ के मरीज़ हैं और इस मामले में भारत चीन के बाद दूसरे नंबर पर है.

चीन में 11.6 करोड़ लोग इस बीमारी का शिकार हैं. डॉक्टरों को कहना है कि ऐसे हज़ारों लोग हो सकते हैं जिनमें इस बीमारी का अब तक पता नहीं चल पाया है.

डायबिटीज़ उन बीमारियों में से एक है जिसके कारण कोरोना वायरस संक्रमित मरीज़ों में कोविड-19 गंभीर रूप अख्तियार कर सकता है. इसके अलावा मोटापा, हाई ब्लड प्रेशर और दिन और फेफड़ों की बीमारी के भी कोविड-19 के गंभीर होने का ख़तरा हो सकता है.

अब डाक्टरों को ये डर सता रहा है कि बड़ी संख्या में कोविड-19 से ठीक हुए मरीज़ों में एक नए तरह के डायबिटीज़ का ख़तरा बढ़ सकता है.

स्टोरीः सौतिक बिस्वास

आवाज़ः विशाल शुक्ला

वीडियो एडिटः दीपक जसरोटिया