प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

क्या दंगापीड़ितों को न्याय मिल पाया?

  • 31 अक्तूबर 2009

1984 के सिख विरोधी दंगों के लिए अख़बारों और मानवाधिकार गुटों ने तब सत्तारूढ़ कांग्रेस पार्टी को ज़िम्मेदार ठहराया था. आम सोच ये है कि इसके दोषी बच निकले. अगर ये सच है तो ये क्यों हुआ? क्या आज स्थिति बदली है?

बीबीसी हिंदी सेवा प्रमुख अमित बरूआ ने बात की जानेमाने पत्रकार मनोज मित्ता और दिल्ली के पूर्व पुलिस कमिश्नर वेद मरवाह से.