पाकिस्तान में बैसाखी की झलक

  • पाकिस्तान में बैसाखी
    पाकिस्तान में सिख समुदाय के बीच बैसाखी का उत्सव बड़े जोश और जज़्बे के साथ मनाया जाता है.सभी तस्वीरें हफ़ीज़ चाचड़ कीं.
  • पाकिस्तान में बैसाखी
    इस अवसर पर भारत से आए क़रीब दो हज़ार सिख यात्रियों ने भी भाग लिया.
  • पाकिस्तान में बैसाखी
    यह उत्सव पंजाब प्रांत के शहर हसन अब्दाल में हुआ जहाँ सिख धर्म का पवित्र स्थान गुरुद्वारा पंजा साहब है.
  • पाकिस्तान में बैसाखी
    बैसाखी सिख धर्म का एक और प्रचीन उत्सव है जो हर साल 13 या 14 अप्रैल को मनाया जाता है.
  • यह ख़रीफ़ की फसल के पकने की खुशी का प्रतीक है.
  • पाकिस्तान में बैसाखी
    पाकिस्तान में क़रीब छह हज़ार सिखों ने इस उत्सव में हिस्सा लिया.
  • पाकिस्तान में बैसाखी
    बैसाखी के अवसर पर विशेष तौर पर पंजाब में मेले लगने की परंपरा है.
  • पाकिस्तान में बैसाखी
    13 अप्रैल 1699 को दसवें गुरु गोविंद सिंह ने खालसा पंथ की स्थापना की थी.
  • पाकिस्तान में बैसाखी
    कई भारतीय यात्रियों ने कहा कि वो बार-बार पाकिस्तान में बैसाखी मनाने के लिए आना चाहेंगे
  • पाकिस्तान में बैसाखी
    हसन अब्दाल के बाद भारतीय सिख यात्री गुरु नानिक के जन्मस्थल ननकाना साहब और लाहौर भी जाएँगे.

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.