काबुल कैमरे की नज़र से

काबुल में जिंदगी की तस्वीरें

बीबीसी के साउथ एशिया एडिटर नाज़ेश अफ़रोज़ के कैमरे से काबुल में जीवन की झलक.
  • काबुल
    वज़ीर अकबर ख़ान की पहाड़ी से काबुल काफ़ी शानदार दिखता है, लड़ाई से हुई बर्बादी के निशान अब नहीं दिखते हैं. (सभी तस्वीरें - पाँच साल बाद काबुल गए बीबीसी वर्ल्ड सर्विस के साउथ एशिया एडिटर नाज़ेश अफ़रोज़ के कैमरे से...)
  • काबुल में हर तरफ़ नई इमारतें दिखती हैं, इमारत की तस्वीर लेने के दौरान फोटो खिंचवाने के कुछ शौक़ीन भी सामने आ गए.
  • काबुल में फिटनेस का बाज़ार, ट्रेडमिल फिट करने में व्यस्त दुकानदार ने बताया कि धंधा अच्छा चल रहा है.
  • तालेबान के ज़माने में संगीत पर पाबंदी थी, इस दुकान को देखकर लगता है कि देश ने लंबा सफ़र तय कर लिया है.
  • ऐसी कपड़ों में महिलाएँ कहीं नहीं दिखतीं लेकिन ऐसे कपड़ों की कई दुकानें शहर-ए-नौ में मौजूद हैं.
  • खिलौने नहीं सचमुच के मोर हैं, पक्षी पालने वाले इन्हें ख़रीदते हैं, दुकानदार ने कहा कि ये भारतीय कश्मीर के हैं.
  • ब्रेकफ़ास्ट, लंच और डिनर सब यही है. काबुल में हर गली में हर दस-बीस क़दम पर नानबाई की दुकान है.
  • नानबाई की दुकान के पीछे ही नान बनाने का काम होता है, एक घंटे में दर्ज़नों नान बिक जाते हैं.
  • लकड़ी के आँच वाले तंदूर में एक के बाद एक नान डाले और निकाले जाते हैं जिनकी खुशबू उड़ती रहती है.
  • काबुल में नान के बाद सबसे बड़ी संख्या में कबाब की दुकानें हैं जो एक काबुल की पहचान से जुड़ी हैं.
  • बच्चे पूरे शहर में यूँ ही घूमते रहते हैं, उन्हें तस्वीरें खिंचाने का बहुत शौक़ है और वे कैमरा देखते ही उसके सामने खड़े हो जाते हैं.
  • काबुल में अंदाज़न साठ हज़ार बच्चे हैं जिनका कोई ठिकाना नहीं है, टूटे हुए सोवियत टैंक पर मस्ती करते दो बच्चे.
  • इस बच्चे के पिता रोज़गार की तलाश में काबुल आए, बच्चा का नाम स्कूल में दर्ज है लेकिन वह अक्सर स्कूल नहीं जाता.

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.