प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

रामविलास पासवान से बातचीत

बिहार की राजनीति में शीर्ष स्तर के नेताओं में लालू प्रसाद यादव और नीतीश कुमार के साथ रामविलास पासवान की भी गिनती होती रही है. पासवान कई बार केंद्र में मंत्री रह चुके हैं. राज्य के दलित समाज पर अपनी पुरानी पकड़ के बूते बिहार की चुनावी राजनीति में भी इनकी अहम भूमिका रही है.

इस बार बिहार विधानसभा चुनाव में पासवान की लोक जनशक्ति पार्टी का लालू प्रसाद यादव के राष्ट्रीय जनता दल के साथ गठबंधन है.

जनता दल युनाइटेड और भारतीय जनता पार्टी (जदयू-भाजपा) गठबंधन की सरकार ने 'अति पिछड़ा' और 'महादलित' वाले आरक्षण रूपी हथियार से इस गठबंधन पर हमला किया है.

मौजूदा चुनावी माहौल में रामविलास पासवान से बातचीत की शुरूआत इसी संदर्भ में एक सवाल के साथ शुरू हुई.