प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

जारी रहेगा एक प्रसारण ....

  • 11 मार्च 2011

बीबीसी वर्ल्ड सर्विस ने 26 जनवरी को किए अपने फ़ैसले में बदलाव लाते हुए शाम के प्रसारण 'दिन भर' को एक साल और जारी रखने का इरादा किया है.

इस बारे में रेडियो, ऑनलाइन और मोबाइल पर सुनने वालों के अनगिनत पत्र और ईमेल आए जिनमें शॉर्टवेव और मीडियम वेव पर हिंदी सेवा के रेडियो प्रसारण जारी रखने का अनुरोध किया गया था.

श्रोताओं के भारी आग्रह और साथ ही इस सेवा को बनाए रखने के लिए आए कमर्शियल फ़ंडिंग के कुछ प्रस्तावों को ध्यान में रखते हुए यह फ़ैसला लिया गया है.

शाम के प्रसारण को साल भर जारी रखने के फ़ैसले का मक़सद है सभी प्रस्तावों और सभी विकल्पों पर विचार करने के लिए समयावधि जुटाना.

आपको क्या लगता है क्या बीबीसी का यह फ़ैसला उचित है? क्या कमर्शियल तौर पर मज़बूत होना ही आज समय की मांग है? और क्या बीबीसी के इस क़दम को श्रोताओं की सहमति हासिल है?